Home कंप्यूटर Computer Network क्या है? कंप्यूटर नेटवर्क के प्रकार

Computer Network क्या है? कंप्यूटर नेटवर्क के प्रकार

0

कंप्यूटर को नेटवर्क से जोड़ने के कई सारे कारण हो सकते हैं यदि हमें एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में डाटा साझा करना है तो उसके लिए भी हमें कंप्यूटर नेटवर्क की जरूरत पड़ती है.

Computer Network क्या है, कंप्यूटर नेटवर्क के प्रकार, Computer Network, Computer Network kya hai, network ke prakar

यदि कोई ऑर्गनाइजेशन है और वहां पर अत्यधिक मात्रा में कंप्यूटर उपस्थित है तो सभी को एक नेटवर्क के माध्यम से जोड़ कर एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में डाटा साझा करना आसान होता है और कंप्यूटर को नेटवर्क से जोड़ने के कई सारे कारण होते हैं आइए अब अच्छे से समझते हैं Computer Network क्या है.

Computer Network क्या है? (Computer Network Kya hai)

जब दो या दो से अधिक कंप्यूटर किसी माध्यम से आपस में जुड़े रहते हैं तब इस प्रकार की व्यवस्था को नेटवर्क कहते हैं. कंप्यूटर नेटवर्किंग में कंप्यूटर किसी लाइन से आपस में जुड़े होते हैं यह कंप्यूटर का एक जाल होता है इसमें कंप्यूटर अलग-अलग जगह लगे रहते हैं परंतु एक लाइन के माध्यम से आपस में जुड़े हुए होते हैं.

Computer Network सुचारू रूप से कार्य कर सकें इसके लिए नेटवर्क के कुछ नियमों का पालन करना आवश्यक होता है यह नियम प्रोटोकॉल कहलाते हैं और कंप्यूटर नेटवर्क में एक ही प्रकार के डाटा को सामूहिक रूप से प्राप्त किया जा सकता है.

DTP क्या हैं, (Desktop publishing ) परिभाषा, कार्य, उपयोग और फायदे

मान लीजिए किसी ऑर्गनाइजेशन में कंप्यूटर का नेटवर्क उपस्थित है एक सरवर है बाकी सभी क्लाइंट कंप्यूटर है और यदि सरवर में कोई एक फाइल रखी है तो सभी क्लाइंट कंप्यूटर उस एक फाइल को सामूहिक रूप से प्राप्त कर सकते हैं और उसे एक्सेस कर सकते हैं.

Computer Network के लाभ –

कंप्यूटर नेटवर्क उपयोग करने के निम्नलिखित लाभ होते हैं उन्हें जानते हैं.

  1. एक से अधिक व्यक्ति एक ही डेटा का उपयोग कर सकते हैं.
  2. कंप्यूटर सिस्टम की लागत कम हो जाती है.
  3. समय की बचत होती है.
  4. यह सूचनाओं की उपलब्धता को बढ़ाता है.
  5. भंडारण क्षमता को बढ़ाता है.
  6. कंप्यूटर नेटवर्क सस्ती प्रणाली है.
  7. फाइल साधा कारण को आसान बनाता है.
  8. डाटा को इलेक्ट्रॉनिक रूप से आदान प्रदान करने की कार्यप्रणाली में तीव्रता लाता है.

कंप्यूटर नेटवर्क के प्रकार – 

कंप्यूटर नेटवर्क मुख्यतः 3  प्रकार होते हैं –

  1. LAN
  2. MAN
  3. WAN

1. LAN –

LAN का पूरा नाम लोकल एरिया नेटवर्क (Local Area Network) है, जब किसी छोटे स्थान पर रखें कंप्यूटर को आपस में एक नेटवर्क के माध्यम से जोड़ा जाता है तो इस प्रकार के नेटवर्क को लेन (LAN) कहा जाता है, LAN नेटवर्क का उपयोग अत्यधिक मात्रा में बिल्डिंग, ऑफिस, या किसी ऑर्गेनाइजेशन के अंदर होती है. लेन में Coaxial Cable का उपयोग किया जाता है.

LAN के फायदे –

  • इस नेटवर्क में कम लागत आती है.
  • इस प्रकार के नेटवर्क में डाटा की स्पीड अच्छी होती है और इसमें डाटा 100 एमबीपीएस प्रति सेकंड की स्पीड से भेज सकते हैं.
  • यह प्राइवेट नेटवर्क होता है, इसका उपयोग करना आसान होता है और यह सस्ता होता है इसलिए यह स्वयं का नेटवर्क होता है.
  • कंप्यूटर संसाधनों का साझा करना, जैसे कि यदि एक कंप्यूटर में डीवीडी ड्राइवर, प्रिंटर, स्कैनर लगे हैं तो उसी से सभी प्रकार के फाइल डॉक्यूमेंट स्कैन करके बाकी सभी अलग-अलग कंप्यूटर में उन फाइल को प्राप्त किया जा सकता है .
  • इस तकनीक का उपयोग करके इंटरनेट कनेक्शन भी साझा कर सकते हैं और सभी कंप्यूटर को इंटरनेट से जुड़ सकते हैं.
  • सॉफ्टवेयर तथा प्रोग्राम को साझा कर सकते हैं.
  • इस प्रकार की नेटवर्क में संचार आसान होता है तेज होता है जिससे कि समय की बचत होती है.
  • डाटा को सुरक्षित रखना आसान होता है.

2. MAN –

MAN का पूरा नाम Metropolitan Area Network होता है, यह ऐसा नेटवर्क होता है जो व्यक्तिगत या सार्वजनिक रूप से अनेक बिल्डिंगों को आपस में जोड़ता है तथा यह नेटवर्क 10 से 100 किलोमीटर के एरिया को कवर कर सकता है इस तरह का नेटवर्क पब्लिक और प्राइवेट दोनों तरह का हो सकता है.

MAN नेटवर्क फायदे –

  • यह एक ऐसा नेटवर्क है जिसमें डाटा जैसे कि वॉइस और इमेज हो 200mbps 35 सेकंड की स्पीड से 75 किलोमीटर तक भेजा जा सकता है.
  • इस प्रकार के नेटवर्क का उपयोग करके पूरे शहर को जोड़ा जा सकता है.
  • लेन के मुकाबले इसकी कीमत अधिक होती है.
  • यह WAN की तुलना में उच्च सुरक्षा प्रदान करता है.
  • इसमें एक या एक से अधिक लेन को जोड़ सकते हैं.

3. WAN –

WAN का पूरा नाम वाइड एरिया नेटवर्क (Wide Area Network)  होता है. वेन एक ऐसा नेटवर्क होता है जो एक बड़े भौगोलिक एरिया को कवर करता है यह नेटवर्क मेन से बड़ा होता है.

वेन दो या दो से अधिक लेन नेटवर्क को आपस में जोड़ता है तथा WAN नेटवर्क को स्थापित करने के लिए सैटेलाइट का भी उपयोग किया जाता है.

WAN नेटवर्क के लाभ –

  • WAN नेटवर्क में कंप्यूटर के बीच फिजिकली लिंक होता है.
  • इसमें डाटा केंद्रीकृत होता है.
  • संदेश को साझा करने के लिए बहुत सारे अनुप्रयोग उपस्थित होते हैं.
  • सॉफ्टवेयर तथा संसाधनों को साझा करना आसान होता है.
  • WAN के माध्यम से वैश्विक एकीकृत नेटवर्क का निर्माण कर सकते हैं.

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर क्या है? Application Software के प्रकार (Application Software Kya hai)

आज हमने इस पोस्ट में Computer Network क्या है? कंप्यूटर नेटवर्क कितने प्रकार के होते हैं इसके बारे में जाना मुझे उम्मीद है कि आप कंप्यूटर नेटवर्क के बारे में अच्छे से जान गए होंगे. उम्मीद करता हूं आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी जरूर कुछ ना कुछ नया सीखने को मिला होगा दोस्तों यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें.

Tags:- Computer Network क्या है, कंप्यूटर नेटवर्क के प्रकार, Computer Network, Computer Network kya hai, network ke prakar.

इन्हें भी पढ़ें :-

Youtube Channel

मल्टी टास्किंग क्या है? (Multitasking Operating System Kya hai)

कंप्यूटर में डाटा खर्च कम कैसे करें

कंप्यूटर के प्रकार / Computer Kitne Prakar Ke Hote Hain ?

कम्प्यूटर की पीढ़ियां (Generations of Computers)

कंप्यूटर का इतिहास (History of Computer)

मेमोरी मापन इकाइयां (कंप्यूटर मेमोरी मापने की इकाई)

इनपुट डिवाइस क्या है ? कंप्यूटर के इनपुट डिवाइस कौन से है

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five − one =

Exit mobile version