होमकंप्यूटरसॉफ्टवेयर क्या है ? Software कितने प्रकार के होते हैं

सॉफ्टवेयर क्या है ? Software कितने प्रकार के होते हैं

सॉफ्टवेयर क्या है –

Software किसी भी कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण अंग होता है, सॉफ्टवेयर डाटा और प्रोग्राम का समूह होता है, जिसका उपयोग कंप्यूटर को सरलता से चलाने और विशिष्ट प्रकार के कार्य करने के लिए किया जाता है. 

सॉफ्टवेयर क्या है, Software कितने प्रकार के होते हैं, Software के प्रकार, software kya hai software ke prakar

सॉफ्टवेयर एक सामान्य शब्द है जिसका उपयोग अनुप्रयोग (Application) और प्रोग्राम के लिए किया जाता है, सॉफ्टवेयर को कंप्यूटर के परिवर्तनशील हिस्से की तरह देखा जा सकता है क्योंकि हार्डवेयर जो भौतिक घटक होते हैं वह सिर्फ वही काम कर पाते हैं जिसके लिए वह बने होते हैं परंतु, Software जो प्रोग्राम के द्वारा बने होते हैं वह विभिन्न प्रकार के काम कर सकते हैं.

कंप्यूटर में किसी कार्य को पूरा करने वाले निर्देशों के समूह को प्रोग्राम कहते हैं, और प्रोग्राम को जिस भाषा में तैयार किया जाता है उन भाषाओं को प्रोग्रामिंग भाषा कहते हैं, और जो व्यक्ति प्रोग्राम तैयार करता है वह प्रोग्रामर कहलाता है, और प्रोग्राम के ग्रुप को सॉफ्टवेयर कहते हैं, सॉफ्टवेयर को हम हाथों से छू नहीं सकते हैं और सॉफ्टवेयर, कंप्यूटर हार्डवेयर को चलाने के लिए आवश्यक होते हैं, कंप्यूटर के तीन महत्वपूर्ण अंग है.

कंप्यूटर के तीन महत्वपूर्ण अंग –

  1. हार्डवेयर (Hardware)
  2. सॉफ्टवेयर (Software)
  3. उपयोगकर्ता (User)

1. हार्डवेयर (Hardware) –

कंप्यूटर हार्डवेयर कंप्यूटर के भौतिक भागों का समूह है, कंप्यूटर हार्डवेयर में कंप्यूटर केस, मॉनिटर, कीबोर्ड, माउस इत्यादि शामिल है. और कंप्यूटर केस के अंदर के सभी वस्तुएं जैसे कि मदरबोर्ड, रैम, हार्ड डिस्क, पावर सप्लाई, फैन यह सभी भाग भी हार्डवेयर हैं. कंप्यूटर हार्डवेयर हुआ है जिसे हम एक रूप से अपने हाथों से छू सकते हैं.

2. सॉफ्टवेयर (Software) –

सॉफ्टवेयर किसी भी कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण अंग होता है, सॉफ्टवेयर डाटा और प्रोग्राम का समूह होता है, जिसका उपयोग कंप्यूटर को सरलता से चलाने और विशिष्ट प्रकार के कार्य करने के लिए किया जाता है. 

3. उपयोगकर्ता (User) –

उपयोगकर्ता वह व्यक्ति है जो कंप्यूटर का उपयोग करता है मतलब कि कंप्यूटर को चलाता है, कंप्यूटर में उपयोग करता कोई भी व्यक्ति हो सकता है चाहे वह प्रोग्रामर हो, वैज्ञानिक हो या फिर कोई सामान्य व्यक्ति जो कंप्यूटर में एप्लीकेशन प्रोग्राम को चलाता है और कंप्यूटर का उपयोग  करता है.

कंप्यूटर Software के बिना कंप्यूटर के हार्डवेयर बिल्कुल बेकार ही है, सॉफ्टवेयर ऐसे प्रोग्राम होते हैं जो सूचना इनपुट, प्रोसेसिंग, स्टोरेज, आउटपुट और कंट्रोल गतिविधियों को पूरा करने के लिए जरूरी होते हैं.

सॉफ्टवेयर एक प्रोग्राम है जो हार्डवेयर को एक विशिष्ट कार्य करने के लिए सक्षम बनाता है कंप्यूटर को चलाने वाले सभी प्रोग्राम सॉफ्टवेयर कहलाते हैं और सॉफ्टवेयर तीन प्रकार के हो सकते हैं.

Software के प्रकार –

मुख्यतः कंप्यूटर सॉफ्टवेयर तीन प्रकार के होते हैं.

  1. सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software)
  2. एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर (Application Software)
  3. प्रोग्रामिंग सॉफ्टवेयर (Programming Software)

1. सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software) –

सिस्टम सॉफ्टवेयर कंप्यूटर को चलाने वाला मुख्य सॉफ्टवेयर होता, जब आप कंप्यूटर को चालू करते हैं तो उस सिस्टम सॉफ्टवेयर हार्डवेयर को सक्रिय करता है और उनके कार्यों को नियंत्रित करता है. एप्लीकेशन प्रोग्राम को सिस्टम सॉफ्टवेयर के द्वारा भी नियंत्रित किया जाता, ऑपरेटिंग सिस्टम सिस्टम सॉफ्टवेयर का एक बहुत ही अच्छा उदाहरण है क्योंकि ऑपरेटिंग सिस्टम भी एक सिस्टम सॉफ्टवेयर है.

ऑपरेटिंग सिस्टम एक सिस्टम सॉफ्टवेयर है जो कंप्यूटर और उपयोगकर्ता के बीच इंटरफेस के रूप में कार्य करता है, ऑपरेटिंग सिस्टम कंप्यूटर के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के कामकाज पर को नियंत्रित करता है, आधुनिक समय में सबसे ज्यादा उपयोग किए जाने वाले ऑपरेटिंग सिस्टम माइक्रोसॉफ्ट विंडोज, लिनक्स और एप्पल मैक ओएस एक्स है.

2. एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर (Application Software) –

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर एक विशेष कार्य करने के लिए बनाया गया सॉफ्टवेयर होता है, एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर सिर्फ वही काम कर सकते हैं जिसके लिए उसे बनाया गया है, यह कंप्यूटर के काम को नियंत्रित नहीं करता है क्योंकि यह यूजर के लिए बनाया गया सॉफ्टवेयर है, एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को आसानी से जरूरत पड़ने पर कंप्यूटर में इंस्टॉल कर सकते हैं और जरूरत ना होने पर अनइनस्टॉल भी कर सकते हैं. यह एक प्रोग्राम या एक से अधिक प्रोग्राम का समूह भी हो सकता है. माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस, एडोब फोटोशॉप, कोरल ड्रॉ, वीडियो एडिटर यह सभी भी एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर है.

3. प्रोग्रामिंग सॉफ्टवेयर (Programming Software) –

प्रोग्रामिंग सॉफ्टवेयर टूल या प्रोग्राम का एक समूह होता है, जो डेवलपर को अन्य सॉफ्टवेयर या प्रोग्राम लिखने में मदद करता है, प्रोग्रामिंग सॉफ्टवेयर ऐसे सॉफ्टवेयर होते हैं जो नए प्रोग्राम लिखने में या एप्लीकेशन बनाने में और एप्लीकेशन को बनाए रखने में मदद करते हैं प्रोग्रामिंग सॉफ्टवेयर कहलाते हैं. 

प्रोग्रामिंग Software को हम फैसिलिटेटर सॉफ्टवेयर भी कह सकते हैं क्योंकि यह प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे जावा, सी, C++, पायथन इत्यादि भाषा को मशीनी लैंग्वेज कोर्ट में ट्रांसलेट करने में मदद करते हैं, उदाहरण के लिए कंपाइलर, लिंकर्स, दुभाषिए, टेक्स्ट एडिटर इत्यादि सभी सॉफ्टवेयर को प्रोग्रामिंग टूल या डेवलपमेंट टूल्स भी कहा जाता है.

Tags :- सॉफ्टवेयर क्या है, Software कितने प्रकार के होते हैं, Software के प्रकार, software kya hai software ke prakar.

इन्हें भी पढ़ें :-

मेमोरी क्या है ? मेमोरी के प्रकार

इनपुट डिवाइस क्या है ? कंप्यूटर के इनपुट डिवाइस कौन से है

कंप्यूटर के प्रकार / Computer Kitne Prakar Ke Hote Hain ?

कम्प्यूटर की पीढ़ियां (Generations of Computers)

कंप्यूटर का इतिहास (History of Computer)

Computer की संरचना

Reeteshhttp://Alltrickinfo.in
Hi I'm Reetesh chandrawanshi founder of Alltrickinfo.in, living in Chhindwara (M. P.), India. I am a fan of technology, and photography. I'm also interested in blogging, and sports...

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 − seven =

Recent Post

Popular Post